महाराष्ट्र में फसलों की जानकारी

२८ नवम्बर २०१६

Download company Profile


WEATHER



   

Weathersys के अनुसार महाराष्ट्र प्रदेश में किसानों से मिली जानकारी के अनुसार कुछ जिलों में बुवाई हो चुकी है जबकि कुछ क्षेत्रों में बुवाई होनी बाकी है |

अमरावती में "संजय देवीदास" ने गेहूँ की बुवाई ११ नवम्बर से आरंभ की थी और लोकवान किस्म का उपयोग किया, इस क्षेत्र में मुख्यतः लोगों ने इसी किस्म का उपयोग किया है वहीं "विजय माणीकराव तत्ते" के अनुसार चने की बुवाई नवम्बर प्रथम सप्ताह से शुरू हुई थी जबकि गेहूँ दिसम्बर से लगाना शुरू करेंगें, फिलहाल खरीफ सत्र में कपास और तुअर की कटाई होनी बाकी है | कपास की पीकिंग एक बार पूर्ण हो चुकी है, और कुल पाँच बार होने के बाद ही कटाई करना आरंभ करते हैं |

   

बुल्धना में "वसंत राव पाटिल" के अनुसार इस बार ज़्यादातर लोगों ने जैविक खेती को महत्व दिया है, तथा गेहूँ व चने की बुवाई नवम्बर के दूसरे सप्ताह से आरंभ हो गयी थी, इन्होंने चने के साथ ज्वार, धनिया, मेथी की फसलों को भी अपने उपयोग के लिए लगाया है जिसमें चने की मुख्यतः विजय किस्म को तरज़ीह दी है | वहीं मौसम की बात की जाए तो इस बार पिछले वर्ष की अपेक्षा सर्दी अधिक हो रही है व ठंड वाला मौसम अक्टूबर से ही आरंभ हो गया था | इस वर्ष ठंड जल्दी होने से चने व गेहूँ की बुवाई अधिक हुई है |

सांगली में "महेश पाटिल" ने गेहूँ की बुवाई नवम्बर प्रथम सप्ताह से व चना की नवम्बर मध्य से आरंभ की थी, इस क्षेत्र में अधिकतर बुवाई हो गयी है |

   



weather


BKC Weathersys Pvt Ltd. | H-135, Sector 63, Noida 201307, India

T: +91 120 4632520/21 |M: +91 9810062673| F: +91 120 4632511/2427869

E: bk@weathersysbkc.com| weather@weathersysbkc.com

W: www.weathersysbkc.com | www.weatherindia.net